Firkee Logo
Home Bollywood Melody Mangalwar Ashiqui Movie Song Which Was Originally Sung By Noorjahan
melody mangalwar: ashiqui movie song which was originally sung by noorjahan

मेलोडी मंगलवार: जिस गाने को गा कर कुमार सानु रातों-रात स्टार बन गए, दरअसल वो चुराया गया था!

पहली मोहब्बत का एहसास है तू 
बुझ के जो बुझ ना पाई, वो प्यास है तू
तू ही मेरी पहली ख्वाहिश 
तू ही आख़िरी है
तू मेरी ज़िंदगी है


ये लाईनें हैं। 1990 में रिलीज़ हुई फिल्म 'आशिकी' के गाने की। जिसे गा कर कुमार सानु रातों रात स्टार बन गए। ऐसा नहीं है कि इससे पहले कुमार सानु ने कोई गाना नहीं गाया था। लेकिन, ये एक ऐसा एल्बम था जो पूरे का पूरा हिट हुआ था। और यहीं से कुमार सानु स्टार हो गए। 

लेकिन जिस गाने ने कुमार सानु को स्टार बनाया था वो दरअसल पहले के एक गाने को कॉपी करके बनाई गई थी। दूसरे शब्दों में कहें तो चोरी की गई थी। जिसमें लिरिक्स और म्युज़िक के साथ थोड़ी छेड़-छाड़ की गई थी। 

और ये चुराई गई थी 1977 की फ़िल्म 'मोहब्बत मर नहीं सकती' से। जिसमें इस गाने को गाया था, 'नूरजहां' ने। जिन्हें लोग मल्लिका-ए-तरन्नुम भी कहते थे। बंटवारे के बाद नूरजहां पाकिस्तान चली गई थीं। जिसकी वजह उन्होंने दी थी कि मैं जहां पैदा हुई हूं वहीं मरना चाहती हूं। 


कहते हैं जब नूरजहां गाती थीं तो लोग सिर्फ़ उन्हें गाते हुए सुनते ही नहीं थे बल्कि उन्हें एकटक देखते भी रह जाते थे। वो इतनी ख़ूबसूरत भी थीं। 
एक बार जब वो पाकिस्तान से इंडिया आई थीं तो स्टेज पर एंकरिंग कर रही थीं,स्वयं सबाना आज़मी। और वो कहती हैं कि जिस तरह इस दुनिया में एक ही धरती है, एक ही चांद है, एक ही सूरज है ठीक वैसे ही दुनिया को नूरजहां भी एक ही मिली हैं। 

वैसे तो 'नूरजहां' के बारे में कहने को बहुत सी बातें हैं लेकिन वो बातें कभी और। फिलहाल मेलोडी मंगलवार के आज के किस्से पर ही बात ख़त्म करते हैं। 

पहले कुमार सानु के गाए गाने को सुनिए। जिसकी लिरिक्स तैयार की थी समीर ने। और संगीत दिया था नदीम-श्रवण ने। 



 

आगे पढ़ें

मल्लिका-ए-तरन्नुम...

Share your opinion:
Synopsis
मेलोडी मंगलवार: जिस गाने को गा कर कुमार सानु रातों-रात स्टार बन गए, दरअसल वो चुराया गया था!