Firkee Logo
Home Videos Akshay Kumar S Reply To Bengluru Case And Suggestions For Girls Is Just Awesome
akshay kumar's reply to bengluru case and suggestions for girls is just awesome

लड़कियों! किसी के बाप में दम नहीं कि आपकी मर्ज़ी के बिना आपको हाथ भी लगा सके!

बेंगलुरु में 31 दिसंबर की रात जो कुछ भी हुआ।  उससे हम और आप पूरे वाकिफ़ हैं।  इसके बाद बहुत सी बातें हुईं।  बहुत से बहस हुए।  इंडिया ही नहीं पाकिस्तान में भी थू। । । थू हो गया।  पाकिस्तान के सबसे बड़े अखबार ने तो कर्नाटक के गृहमंत्री के सड़े हुए बयान को ही स्टोरी का टाइटल दे दिया।  

उस रात के नंगे नाच की खबर अभी ठंढी भी नहीं हुई थी।  और ठंढी होनी भी नहीं चाहिए।  यही तो दिक्कत है सबसे ज्यादा।  हमलोग बहुत जल्दी ठंढे पड़ जाते हैं।  मीडिया में नई खबरें आती हैं और फिर हम उत्तर प्रदेश की यात्रा पर निकल पड़ते हैं।  ऐसे भी हमारे यहां की मीडिया के लिए तो नॉर्थ के दो-ढाई राज्य ही पूरा देश हो जाते हैं।  उनमें भी उनके सिर्फ बड़े शहर।  

लेकिन बंगलोर मिरर ने जब उस रात की रिपोर्ट अपनी वेबसाइट पर छापी तब जा कर लोगों की आंख खुली।  अब 4 दिन बीत चुके हैं।  लेकिन जो संवेदनशील लोग हैं।  वो आज भी उतने ही डरे और गुस्से दोनों में हैं।  जितने उस रात हुए होते।  

अक्षय कुमार न्यू इयर के वक़्त इंडिया में नहीं थे।  वो कहीं और केपटाउन गए हुए थे।  फैमिली के साथ छुट्टियां मनाने।  अब जब लौटे हैं।  तो लताड़ा है।  जम के।  सब को।  न सिर्फ लौंडों को ही।  उन सभी लोगों को जो बार-बार लड़कियों पर हुए छींटा-कसी पर लड़कियों के कपड़े को दोषी बना देते हैं।  

क्या कहा नहीं कहा सुन लीजिए।  ये हिंदी में ही बोलते हैं।  जो भी कहा दिल खुश हुआ सुन कर।  जहां देश के नेता लड़कियों की तुलना पेट्रोल और चीनी से कर रहे हैं।  कोई तो हैं जो मुखर है इस मुद्दे को लेकर।  देश की बेटियों के भविष्य को लेकर।  
 

वीडियो: 





अच्छा, जिन नेताओं ने लड़कियों के कपड़े को लेकर अपना मुंह खोला था। गंध मचाने के लिए। अगर उन तक पहुंच सके तो स्पेशल हमारी तरफ से पहुंचा दीजिएगा। और पूछिएगा कोई जवाब है क्या? अगर एक स्टार के तौर पर नहीं और बाप के तौर पर मिला तो मार के सुजा देगा। फिर सोचते रहिएगा बैठें कैसे और खड़े कैसे हों! 


ट्विटर पर लोगों ने इसकी खूब तारीफ़ भी की। जो कि जरूरी भी है! 

 

Firkee.in जय हिंद! 

Share your opinion:
Synopsis
लड़कियों! किसी के बाप में दम नहीं कि आपकी मर्ज़ी के बिना आपको हाथ भी लगा सके!