Firkee Logo
Home Feminism Manju Barua Becomes First Women Manager Of Assam Tea Estate After Two Centuries
Manju Barua becomes first women manager of assam tea estate after two centuries

दो सदियों बाद पहली बार ये महिला बनी असम चाय बागान की प्रबंधक

अपने दिन की शुरुआत चाय के बिना कल्पना कर सकते हैं? बहुत से लोगों का जवाब 'नहीं' होगा लेकिन चाय के विषय में कितना जानते हैं आप? अगर नहीं जानते तो ये जानना आवश्यक है कि लगभग तीन सदियों दो सदियों बाद पहली बार ये महिला बनी असम चाय बागान की प्रबंधक बाद कोई महिला टी एस्टेट की पहली महिला प्रबंधक बनी है।

1800 के दशक में, अंग्रेजों ने चीनी चाय व्यापार के एकाधिकार को तोड़ने के लिए भारत में चाय की खेती की शुरुआत की। उन्होंने असम में चाय बागानों का निर्माण किया और मणिरम दीवान भारत के पहले व्यक्ति हैं जिनको चाय बागान स्थापित करने का श्रेय दिया जाता है।

तब से अब तक चाय बागान एक पुरुष वर्चस्व वाला क्षेत्र रहा है।लेकिन महिलाएं जैसे हमेशा से ही अपनी छाप हर क्षेत्र में छोड़ती आईं हैं वैसे इस क्षेत्र को महिला कैसे छोड़ देती। जी हां,  एपीजे चाय ने तिनसुकिया जिले में हिल्का टी एस्टेट का प्रबंधन करने वाली पहली महिला के रूप में मंजू बरुआ को नियुक्त किया है।
आगे पढ़ें

Share your opinion:
Synopsis
एपीजे चाय ने तिनसुकिया जिले में हिल्का टी एस्टेट का प्रबंधन करने वाली पहली महिला के रूप में मंजू बरुआ को नियुक्त किया है।

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree