Firkee Logo
Home Fun One Handed Man Dinesh Kumar Constructing Nh24 His Story Can Inspire Millions
One Handed Man Dinesh Kumar constructing NH24, his story can inspire millions

1 हाथ से 14 लेन का हाइवे बना रहा यह शख्स, इनकी हिम्मत मुर्दों में जान फूंक देगी!

'एक पत्थर तो तबीयत से उछालों यारों, कौन कहता है कि आसमां नें सुराख नहीं होता...' वाली बात इस शख्स के जिंदगी की जैसी टैग लाइन सी बन गई है। हाथ एक है, लेकिन जज्बा हजारों हाथों का। हिम्मत की तो पूछिए मत, जनाब 14 लेन का हाईवे बना रहे हैं। हमें लगा कि इनकी झलक बहुत से मायूसों की जिंदगी में शायद रोचकता भर और साहस भर दे, इसलिए ये रही एक खास मजदूर दिनेश कुमार की साहस भरी स्टोरी, जो मुर्दों में भी जान फूंक दें.... 

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक 6 साल पहले दिनेश ने अपने गांव सुल्तानपुर में करंट लगने से एक हाथ खो दिया। हाथ पूरा खराब हो गया था, इसलिए डॉक्टरों से उसे उनके बदन से हटा ही दिया। दिनेश के 6 बच्चे हैं जिनमें पांच बेटियां है। सरकार ने उनके दिव्यांग वाली सुविधाओं के कागज और बस पास बनाए हैं, लेकिन इतने भर से जिंदगी कहां कटती है। एक भरे-पूरे परिवार की जिम्मेदारी का बोझ एक हाथ पर लिए दिनेश ने मेहनत मजदूरी करना शुरू किया। आजकल दिनेश14 लेन के राष्ट्रीय राजमार्ग पर मजदूरी कर रहे हैं। दिल्ली के मयूर विहार इलाके में काम करते मजदूरों को जब सूर्य देवता अपने प्रकोप से झुलसा देते हैं, तब वे सब दिनेश को देख फिर फिर से तरोताजा हो उठते हैं और गर्मी को मात देकर काम पर जुट जाते हैं।

वास्तव में दिनेश उन लाखों लोगों के लिए प्रेरणाश्रोत हो सकते हैं जो छोटी-छोटी ख्वाहिशों-बातों के पूरा न होने पर मायूसियों का जैसे मजमा लगा देते हैं और जिंदगी को कोसने लगते हैं। सरकार को तो वाकायदा दिनेश और उनके जैसे लोगों के जरिए अवसाद ग्रस्त लोगों के मानसिक इलाज का कोई हल जुगाड़ लेना चाहिए, जरूर सफलता मिलेगी। आपको यह कहानी कैसी लगी, हमें हमारे कमेंट्स बॉक्स में जरूर बताएं और ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।
Share your opinion:
Synopsis
हाथ एक है, लेकिन जज्बा हजारों हाथों का। हिम्मत की तो पूछिए मत, जनाब 14 लेन का हाईवे बना रहे हैं।

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree