Firkee Logo
Home Omg Facts From History About The Proverb Kahan Raja Bhoj Kahan Gangu Teli

'कहां राजा भोज, कहां गंगू तेली' कहावत के पीछे छुपा है ये गहरा रहस्य

ये कहावत तो न जाने कितनी बार सुनी होगी कि, कहां राजा भोज कहां गंगू तेली। भले ही ये कहावत मज़ाक के तौर पर बोली जाती हो लेकिन इसके पीछे सच्ची कहानी छिपी हुई है।  इस कहावत में दो नाम आते हैं एक तो राजा भोज और दूसरा गंगू तेली। राजा भोज कौन थे ये तो शायद आप जानते होंगे, लेकिन क्या आपको पता है कि ये गंगू तेली कौन था? कैसे पता होगा, इस ऐतिहासिक चरित्र के बारे में बहुत कम वर्णन किया गया है। हालांकि, इतिहास कारों के गंगू तेली को अलग-अलग मत हैं। 
अगली स्लाइड देखें
Share your opinion:
Synopsis
Proverb कितनी बार सुनी होगी कि, कहां राजा भोज कहां गंगू तेली। क्या आपको पता है कि ये गंगू तेली कौन था?

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree