Home Omg Woman Shares How Heaven Looks After Spending Five Years In Heaven

Ajab Gajab: दोबारा जिंदा हुई महिला ने बताया कैसा दिखता है स्वर्ग? डॉक्टर्स भी रह गए हैरान!

टीम फिरकी, नई दिल्ली Published by: ज्योति मेहरा Updated Wed, 01 Feb 2023 12:34 PM IST
सार

हाल ही में एक चौकाने वाला मामला सामने आया है, जिसमें एक महिला ने दावा किया है कि वह मौत के बाद वापस लौटी है और उसने पांच साल स्वर्ग में बिताए हैं।

महिला ने बताया कैसा दिखता है स्वर्ग
महिला ने बताया कैसा दिखता है स्वर्ग - फोटो : istock

विस्तार

How Life looks After Death: हर इंसान के मन में कभी न कभी ये सवाल जरूर आता है कि जब इंसान की मृत्यु होती है, तो आखिर वह कहां जाता है? जब आत्मा शरीर को छोड़ देती है तो वह कहां जाती है? हालांकि इस तरह के तमाम सवालों का सटीक जवाब आज तक कोई नहीं दे पाया है। लेकिन हाल ही में एक चौकाने वाला मामला सामने आया है। दरअसल एक महिला ने अपना एक्सपीरियंस शेयर करते हुए लोगों के मन में सदियों से चले आ रहे हैं इन प्रश्नों का उत्तर दिया है। महिला का दावा है कि वह मौत के बाद वापस लौटी है और उसने पांच साल स्वर्ग में बिताए हैं।

महिला का नाम डॉक्टर लिंडा क्रैमर (Dr Lynda Cramer) है, जिसने अपना अजीबोगरीब एक्सपीरियंस शेयर किया है। क्रैमर का दावा है कि वह 6 मई, 2001 की सुबह मर गई थी, जिसके बाद उसकी स्वर्ग की यात्रा शुरू हो गई थी। इस दौरान उसे अस्पताल ले जाया जा रहा था, लेकिन उसकी आत्मा स्वर्ग की ओर जा रही थी।

लिंडा क्रैमर के मुताबिक, उसकी मौत के 14 मिनट के बाद उसने बड़े-बड़े पहाड़ दिखने लगा थे, जो माउंट एवरेस्ट से भी अधिक ऊंचे और बड़े थे। एक इंटरव्यू के दौरान क्रैमर ने बताया कि मरने के बाद उसने खुद को फूलों के एक मैदान में खड़ा पाया, जहां से वह माउंट एवरेस्ट से भी 30 हजार गुना ऊंचे पहाड़ों को देख रही थी। साथ ही उसे आसमान छूती इमारतें भी दिखाई दे रही थीं, जिसके सामने दुबई की ऊंची इमारतें भी झोपड़ी नजर आएंगी। वहां उसे झील भी दिख रही है। इसके अलावा वहां पर अन्य लोग भी मौजूद थे, जिनसे वह बात कर सकती थी।

क्रैमर दावा करती हैं कि उनका ये पूरा अनुभव वहां करीब 5 साल तक रहने जैसा था। हालांकि लोगों के लिए इस पूरी बात पर यकीन करना काफी मुश्किल है। हालांकि इससे पहले भी मौत के बाद की दुनिया के दावे कई लोगों ने किए हैं। विज्ञान की नजर से देखा जाए तो न्यूरो साइंटिफिक रिसर्च के मुताबिक, इस तरह के अनुभव का कारण शरीर के बिगड़े मल्टीसेंसरी इंटीग्रेशन हो सकता है। यह मौत की आशंका के कारण होते हैं।

विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree