Firkee Logo
Home Photo Gallery Satire Satire By Famous Satirist Pratapnarayan Mishra
satire by famous Satirist pratapnarayan mishra

'उपाधि' ऐसी आपदा जो मरने पर ही छूटती है...

यद्यपि जगत में और भी अनेक प्रकार की आधि-व्याधि हैं, लेकिन उपाधि सबसे भारी छूत है। सब आधि-व्याधि यत्न करने से टल भी जाती हैं पर यह ऐसी आपदा है कि मरने ही पर छूटती है। छूटती भी क्या है, नाम के साथ तो मरने के बाद भी लगी रहती है। हां, मरने के बाद सताती नहीं है। यदि मरने के पीछे भी आत्मा को कुछ करना-धरना तथा आना-जाना या भोगना पड़ता होगा, तो हम समझते हैं उस दशा में भी यह बीमारी पीछा ना छोड़ती होगी। आगे पढ़ें

Share your opinion:
Synopsis
'उपाधि' ऐसी आपदा जो मरने पर ही छूटती है... satire by famous Satirist pratapnarayan mishra

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree