Firkee Logo
Home Satire Whenever Democracy Comes In Danger Politicians And Social Worker Starts Strike Protest
whenever democracy comes in danger politicians and social worker starts strike protest

पानीपत के वाटरलू में लोकतंत्र को पैरटफ्लू

लोकतंत्र खतरे में है। यह खबर जैसे ही लीक हुई, लोकतंत्र के यार-दोस्त और रिश्तेदार फौरन लोकतंत्र की रक्षार्थ धरने के लिए रवाना हो लिए। कुछ ने तो लोकतंत्र के प्राणों की खातिर कहीं आना-जाना भी मुफीद न समझा और जहां थे, तहां ही धरनास्थ हो गए।  लोकतंत्र के रिश्तेदारों का कहना है कि लोकतंत्र को बचाने के लिए चाहे पानीपत और वाटरलू एक करना पड़े, हम करेंगे।

वहीं लोकतंत्र की कुंवारी बुआ के भतीजे लोकतंत्र के प्राणों को नाभि से निकालकर घुटनों में ट्रांसप्लांट करवाने की तैयारी पूरी कर चुके हैं। जहां तक पारंपरिक इलाज की बात है, तो कई शोध और प्रयोगों के आधार पर यह सिद्ध हो चुका है कि लोकतंत्र की सेहत अगर नासाज होने लगे, तो धरना और प्रदर्शन का प्रयोग किया जाना चाहिए।
आगे पढ़ें

Share your opinion:
Synopsis
Democracy को कोई भी बीमारी हो जाए, उसे दो ढक्कन धरना और चार चम्मच प्रदर्शन की फक्की लगवा दो। लोकतंत्र तुरंत अरबी घोड़ों की तरह हिनहिनाता नजर आएगा।

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree